Top 10 Nifty 50 Companies List In India । Nifty 50 मैं इन्वेस्ट कैसे करें ?

Top 10 Nifty 50 Companies List :

Top Nifty 50 Companies in India 2022
Nifty 50 Companies Highlights

What is Nifty 50 , Top 10 Nifty 50 Companies List , How to invest in nifty 50 Companies , What Is Nifty 50 Future , Nifty 50 Calculate कैसे करें ? Nifty 50 Companies नानी बेस्ट कैसे करें ।

Sensex और Nifty 50 Companies Highlights :

Sensex एक तरह का Bombay Stock Exchange है और National Stock Exchange को हम Nifty कहते हैं । Sensex Basically Sensitive Index का Basics फॉर्म है Nifty जो है वह National 50 का Short Form है । Sensex जो है वह Top 30 Companies का Index होता है और यह जो टॉप थर्टी कंपनी होता है इसको Free Flop के द्वारा Select क्या जाता है । हरीश में सबसे बड़ी बड़ी कंपनी है होते हैं जो कि टर्नओवर के हिसाब से हमको सिलेक्ट किया जाता है । Sensex के शुरुआत हुआ था 1978-79 , तभी सेंसेक्स का Stock Price 100 रुपया रखा गया था ।

Nifty मैं Top 50 Companies को Select क्या जाता है । Nifty Top 50 Companies का Index है , Nifty का शुरुआत 1996 में हुआ था और तभी इसका Stock Price 1000 रखा गया था । Nifty 50 मैं Top 50 Companies प्ले स्टोर है ।

Union Bank ATM Pin Generate कैसे करें

Nifty 50 क्या है ?

Nifty 50 जो है वह NSE का सबसे बड़ा Index है , इसमें जो टॉप फिफ्टी कंपनी है जिसको Bluechip Companies कहा जाता है । और यह 65 प्रतिशत टोटल मार्केट शेयर को कॉल करता है । इसके लिए Nifty 50 इकोनामिक को भी इफेक्ट लाती है । और इसमें निवेश करने वाला कंपनी सभी बड़े बड़ी कंपनी होते हैं । Nifty 50 Index Companies को हम देखें तो बहुत चेंज होता रहता है मार्केट कैपिटल आजा सनम को देखकर ।

मार्केट केपीटलाइजेशन जानने के लिए Share के Value के साथ Total Number Of Share को Multiply करने से जोर निकलेगा उसको Market Capilization कहां से आता है ।

Nifty 50 को Calculator कैसे करें ?

Nifty 50 Calculate करने के लिए Market Value के साथ जितना सारे सभी को मल्टिप्लाई करने के बाद जो मार्केट क्या प्रकाश जगन आएगा उसे एक फार्मूला की द्वारा कैलकुलेट किया जाता है ।

Nifty 50 = ( वर्तमान का मार्केट वैल्यू ÷ Basic Market Capital × 1000 )

Brkgb Balance Check Kaise Kare?

Top Nifty 50 Companies Eligibility Criteria क्या है ?

जिस भी Companies को Nifty 50 मैं ऐड किया जाता है वह सभी इस Criteria कमाना पड़ता है , सारा कृत्य को फुलफिल करना होगा जब इसमें ऐड होने से पहले भी और ऐड होने के बाद भी ।

1 . Indian Companies होने के साथ ही Listed होना चाहिए

जो भी कंपनी Nifty 50 का Part बनना चाहता है वह एक Indian Companies होना चाहिए और Indian मैं Listed होनी चाहिए । ऐसे बहुत सारे कंपनी है जो इंडिया का है लेकिन डिस्टर्ब नहीं है तो ऐसे में लिस्टेड कंपनी इस Nifty 50 Part बन सकते हैं ।

2 . Minimum 10 % Share मार्केट में Float होना चाहिए

दूसरा कंपनी का 10 परसेंट शेयर मार्केट में लोड होना चाहिए । किसी भी कंपनी जब अपना शेयर लिस्टिंग करता है तभी वह खुद का नाइटी पर्सेंट शेयर रखता है और बाकी 40 परसेंट लिस्ट करता है । इसमें प्रमोटर अपने पास ज्यादा शेयर नहीं रख सकते हैं परिषद 10 पर्सेंट रहता है वह मार्केट में बाकी लोग खरीदने के लिए रखा जाता है ।

3 . Liquidity

Liquidity का मतलब यह होता है अगर किसी भी कंपनी इसमें लिस्ट ऐड होना चाहता है तो उसी कंपनी का शेयर प्राइस हर सेकंड में चेंज होना चाहिए इसी तरह का कंपनी ही इसमें लिस्ट हो । हर दिन शेयर प्राइस कुछ ना कुछ बढ़ता कविता रहना वाला कंपनी चाहिए ऐसे नहीं कि बंद होकर कुछ नहीं नया साल तक रहे चाहिए हर दिन चालू वाला कंपनी ‌।

4. Going Out Companies

Going out Companies मतलब यह होता है Nifty 50 का जो Last Companies होता है उसको बाहर कर दिया जाता है और जो कंपनी के Performance सही होता है उसी कंपनी को Nifty 50 मैं Listed क्या चाहता है ।

जो कंपनी खराब चल रहा है और मुझे न्यू कंपनी आने वाला है उसका मार्केट रेट 1.5 प्रतिशत अफ्रेश मार्केट वैल्यू ज्यादा होना चाहिए ।

5 . Future And Option होनी चाहिए

जो भी कंपनियां इसमें लिस्ट होना चाहता है वह Future के ऑप्शन पर होना चाहिए , ऐसे बहुत कंपनियां है अच्छा लिस्टेड बनना तो चाहते हैं लेकिन Future and Options पर नहीं है ।

6.‌ Companies के Market Cap Large होना चाहिए

अगर आपके एक कंपनी है यार आप इसमें लिस्टेड करना चाहते हो तो आपका Market cap 20,000 होना चाहिए तभी जाकर आप इसमें Participate कर सकते हो ।

Top Nifty 50 Companies मैं Invest कैसे करें ?

अगर आप Top Nifty 50 Companies मैं Invest करना चाहते हो तो Nifty Future and Nifty Option के द्वारा इन्वेस्ट कर सकते हो ।

Nifty Future क्या है –

Nifty Future क्या मतलब होता है आप एक Future Value के लिए Contract बनाते हो और इसमें हैं आपको किसी प्रकार का कोई भी Demat account कभी जरूरत नहीं है । निफ़्टी फ्यूचर्स में आप 3 महीने तक कॉन्ट्रैक्ट बना सकते हो और इसमें यह होता है कि अगर आपका शेयर प्राइस आज जितना है और फ्यूचर में बुक कम हो सकता है तो ऐसे में आप सामने वाले को बोल कर सेम प्राइस में अगले महीने खरीदने के लिए कहोगी और अगर वह मान जाता है , तो जितना शेयर घटेगा तो आपको जितने में चार था उतना पैसा देगा और अगर आपका जितना शहर में इनक्रीस होगा उसका उतना प्रॉफिट होगा ।

Nifty Option क्या होता है ?

Nifty Option का मतलब होता है आने वाले टाइम पर एक सर्टेन प्राइस में एनएफटी होता है तो आप उसको Purchase कर सकते हो और एक सर्टेन प्राइस से नीचे जाता है तो आप उस शहर को Sell कर सकते हो । यह एक तरह का अब का आवास nifty Option रहता है ।

Top 10 Nifty 50 Companies List 2022

Reliance Oil and Gas
HDFC बीक Financial Serv.
infosysIT Companies
ICICI BankFinancial Serv.
Housing Devl. Finance Corporation Financial Serv.
TATA Consultancy Serv.IT Companies
Kotak Mahindra Bank Financial Serv.
ITCFMCG
Hindustan Unilever FMCG
Larsen & Toubro Construction

Conclusion :

आज हमने Nifty 50 क्या होता है साथ ही Nifty 50 से जुड़े कुछ Companies को बारे में पूरी जानकारी मिलने वाला है । Top Nifty 50 Companies List और Nifty 50 आप अपने कंपनी का कैसे List कर सकते हो यह सब के बारे में भी जानने को मिला ।

Nifty 50 से जुड़े FAQS :

Q Nifty का Full Form क्या है Hindi Mein ?

नेशनल और फिफ्टी ( National Fifty ) इन दोनों शब्दों को लेकर Nifty बना है ।

Q Treding कितने प्रकार के होते हैं ( Types of Trading) ?

ट्रेडिंग चार प्रकार के होते हैं एक इंट्राडे ट्रेडिंग , स्विंग ट्रेडिंग , शॉर्ट टर्म ट्रेडिंग और लोंग टर्म ट्रेडिंग ।

Leave a Comment