वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में शौचालय कहाँ होने चाहिए | Vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?

दोस्तों हम जब भी घर बनाते हैं तो काफी लोगों के मन में यह सवाल जरूर आता है की vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie . शौचालय अगर वास्तव रूप नहीं होता है तो यह सही नहीं है ऐसा माना जाता है । चारों दिशाओं में शौचालय कहां बनाना चाहिए जिससे हमारे घर में भी किसी प्रकार का वास्तु दोष ना लगे ।‌ घर में शौचालय कहाँ नहीं होना चाहिए? पश्चिम मुखी घर में शौचालय कहाँ होना चाहिए वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय टैंक और वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय किस दिशा में होना चाहिए इन के बारे मे आज आपको पूरी जानकारी मिलने वाला है ।

अगर आपके घर किसी भी दिशा में है और शौचालय बनवाना चाहते हो और वह सच्चाई कहां बनने से आपके vastu सही होगा । शौचालय बनाने के लिए कौन-कौन सी दिशा को ध्यान रखकर निर्माण करना चाहिए जिसे सभी को लाभ मिल सके ।

Table of Contents

(Vastu) वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय किस दिशा में होना चाहिए ?

vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?
Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?

वास्तु हमारे जीवन में एक ऐसा विचार है जो किसी भी कार्य को करने में अहम रखता है । वास्तु शास्त्र का नियम पालन करने से घर के सारे दुख दूर होता है । वास्तुशास्त्र हर जगह काम आता है । वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय का निर्माण भी सही दिशा में है करना चाहिए । वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में शौचालय कहां बनाई जाएगा यह घर की नक्शा से है पता किया जाता है । वास्तु शास्त्र के अनुसार यह निर्धारित किया जाता है कि आपके घर में शौचालय कहाँ नहीं होना चाहिए और सोचा भाई कहां बनवाना चाहिए । vastu के दिशा से आप सच लड़ाई बनाते हो तो आपकी सारी परेशानी दूर हो जाती है साथ ही घर में कुशल मंगल होता है । पहले लोग वास्तु शास्त्र की ही जानकारियां ना जाए घर या शौचालय बनवाते थे ।

vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?

vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?
Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?

हमारे भारत देश में भारत सरकार के द्वारा सभी के घर में शौचालय बनाई जा रहा है और यह सच लड़ाई वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के बाहर होना चाहिए । शौचालय पहाड़ बनाने का और भी एक मकसद है कि हमारे घर में पूजा स्थान होता है । आजकल पढ़ता हुआ इस आबादी में लोग घर में ही अपना शौचालय बनाने का शुरू कर रहे हैं जोकि वास्तु शास्त्र के अनुसार सही नहीं है । vastu Shastra के अनुसार घर में दक्षिण पश्चिम दिशा में है शौचालय बनाना चाहिए । सभी को शौचालय इस दिशा में बनाना चाहिए इसे आपकी घर कभी मंगल होगा और किसी प्रकार का रोग व्याधि नहीं होगा ।

घर में शौचालय कहाँ नहीं होना चाहिए?

अगर आपके घर के अंदर शौचालय है तो यह वास्तु शास्त्र के अनुसार सही नहीं है । वास्तु शास्त्र हमारे लिए हानि नहीं है बल्कि लाभ है इसे मिलने वाले कई सारे लाभ हमारे ऊपर पड़ता है । वास्तु शास्त्र को मनी और पहले कि लोग सारे मानते आ रहे हैं और इसे ना मानने से यह हमारे ऊपर होने वाले परेशानी को भी माना जाता है इसलिए वास्तु शास्त्र का मानना जरूरी है । अगर आप दक्षिण पश्चिम दिशा में शौचालय बनवा दी हो तो इससे आपके और आपके परिवार के लिए लाभदायक है ।

  • घर के अंदर शौचालय नहीं होना चाहिए ।
  • पूर्व या उत्तर दिशा में शौचालय नहीं बनाना चाहिए ।

( Vastu )वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय निर्माण नहीं करने से क्या होता है ?

अगर आप वास्तु शास्त्र के अनुसार अपने घर की शौचालय नहीं बनवाते हैं तो घर में होने वाले के सारे परेशानी वास्तु शास्त्र द्वारा हुआ ऐसा माना जाता है ।

  • मन स्थिर हो जाना जैसे
  • बीमार का लक्षण दिखाना
  • शारीरिक अस्वस्थता
  • नौकरी ना मिलना

शौचालय वास्तु दोष निवारण कैसे करें ?

  • शौचालय बनाने समाई वास्तु दिशा का मानना बहुत जरूरी है ।
  • शौचालय बनवाने समय जो उपकरण लगता है उसमें किसी प्रकार का बाजार से नकारात्मक चीजें नहीं होना चाहिए ।
  • घर में एक साथ Toilet और Bathroom मत बनाइए ।
  • शौचालय बनवाने के लिए एक अच्छे जगह चुनी है जिसमें वह घर का दक्षिण पश्चिम दिशा में रहेगा ।
  • शौचालय और पास में है पूजा घर कभी साथ में मत बनाइए इसे पास तो शस्त्र का सही नहीं माना जाता है ।

Bathroom वास्तु दोष निवारण कैसे करें ?

  • वास्तु के द्वारा जो भी निर्धारित किया गया है दिशा उसी दिशा में बनाई है ।
  • आपके घर में Bathroom और Toilet अलग अलग होना चाहिए ।
  • आपके बाथरूम का पानी का दिशा विपरीत दिशा में होना चाहिए ।
  • आपके बाथरूम के बाहर किसी भी प्रकार का चीजें को नहीं रखना चाहिए ।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार लोगों को पूर्व दिशा में बाथरूम बनाना चाहिए ।

वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय टैंक ?

वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय परवाना नियमित जरूरी है इसे आपको और आपके परिवार को कई सारे फायदेमंद साबित होता है । vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie :-

  • अगर आप पश्चिम दिशा में शौचालय बनवाते हो तो यह वास्तु शास्त्र के लिए सही नहीं है और इसे आपको किसी भी प्रकार का फल नहीं मिलता है ।
  • अगर आप उत्तर दिशा में शौचालय बनवाते हैं तो इसे आपको और आपके परिवार की किसी को भी रोजगार मिलने से हैं रॉक आता है ।
  • अगर आप सच आ रही उत्तर पूर्व दिशा में बनाती है तो रोग व्याधि समस्या कहां देखने को मिलता है ।
  • घर की परवतीशा में कभी भी शौचालय नहीं बनवाना चाहिए जो कि सही नहीं है ‌।
  • इन सारे बात को ध्यान देकर vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay Hona chahie।

वास्तु के अनुसार शौचालय सीट की दिशा ?

वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय की दिशा के अनुसार आपके टॉयलेट सीट की दिशा भी है सही होना चाहिए । क्या आप जानते हैं दिशा कैसा होना चाहिए –

  • आपके घर की बहार पश्चिम या दक्षिण दिशा में है टॉयलेट सीट रहना चाहिए ।
  • शौचालय के लिए दक्षिण पश्चिम वास्तु शास्त्र के अनुसार एक अच्छी दिशा माना जाता है ।
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार आप टॉयलेट सीट का जब भी पढ़ाई करते हो तो आपके मुख पश्चिम या दक्षिण दिशा में होना चाहिए ।

लैट्रिन बाथरूम कैसे बनाएं ?

  • अगर आपके बाथरूम और शौचालय एक ही दीवार में आता है तो यह सही नहीं है ।
  • लादेन और बाथरूम अलग-अलग दीवार का बनाइए ‌।
  • यह बात की ध्यान रखें कि आपकी बाथरूम की शौचालय की त्यौहार पश्चिम की ओर होना चाहिए ।
  • आपके अलादीन और बाथरूम की दीवार पूरी तरह से क्लीन होना चाहिए ।
  • लादेन और बाथरूम के दरवाजे आपके लकड़ी का होना चाहिए ।
  • लेट्रिन बाथरूम आपके घर में दक्षिण पश्चिम दिशा में होना चाहिए ।

(Vastu Shastra)वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में शौचालय कहाँ होने चाहिए ?

vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?
Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ?
  • Ghar mein shauchala बनाने से पहले शौचालय से निकले वाले पानी सारा उत्तर दिशा में जाना चाहिए ।
  • आजकल ज्यादातर लोग अपने घर में ही शौचालय बनवाते हैं जोकि वास्तु शास्त्र के अनुसार सही नहीं है । अगर आप अपने घर के बाहर शौचालय बनवाना चाहते हो तो दिखे या पश्चिम दिशा में बनाएं ।
  • सोचालय में लगेगा ही दरवाजा आपकी मॉक की तरह आप नहीं होना चाहिए ।
  • शौचालय और बाथरूम लेकिन द्वार में नहीं बनाना चाहिए आप अगर शौचालय बनवाना चाहती हो तो हिना वास्तु शास्त्र का ध्यान रखें ।
  • Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie.

शेष भाग ( Conclusion) :

आज हमने आपको vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie ( वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में शौचालय कहाँ होने चाहिए ) साथ ही वास्तु शास्त्र से जुड़े घर में शौचालय कहाँ नहीं होना चाहिए? पश्चिम मुखी मकान में शौचालय कहाँ होना चाहिए और वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय टैंक वास्तु शास्त्र के अनुसार शौचालय किस दिशा में होना चाहिए इन सभी के बारे में जानने को मिला ।

अगर आप भी शौचालय वास्तु दोष निवारण करना चाहते हो और एक शौचालय करवाना चाहते हो तो इन सारे बातों का ध्यान रखें ।

vastu Shastra ke anusar Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie इसे जुड़े कुछ FAQS :-

Q बाथरूम का दरवाजा किधर होना चाहिए ?

वास्तु शास्त्र के अनुसार आपके बाथरूम का दरवाजा उत्तर या पूर्व दिशा में रखें ।

Q घर में शौचालय कहां नहीं होना चाहिए ?

बाथरूम का दरवाजा उत्तर या पूर्व दिशा में रखें और सच्चाई का आप देखेंगे पश्चिम दिशा में रखें ।

Q सीढ़ी के नीचे लैट्रिन बाथरूम बना सकते हैं क्या?

वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर आप सीढ़ियों कि नीचे लेट्रिन बाथरूम बनाती है तो आपकी पैसों की कमी हो सकती है इसलिए नीचे नहीं बनाना चाहिए ।

Q वास्तु के अनुसार शौचालय का गड्ढा ?

वास्तु शास्त्र के अनुसार दक्षिण दिशा से 3 से 4 फुट 5 इंच की दिशा में गढ़ा करना चाहिए । सोचा है कि वह थैंक्यू पर किसी प्रकार का निर्माण नहीं करना चाहिए ।

Q शौचालय की लंबाई और चौड़ाई कितनी होनी चाहिए ?

वास्तु दोष के अनुसार शौचालय क्या 1.5 और ऊंचाई 2.35 तो होना चाहिए .

Q पश्चिम मुखी मकान में शौचालय कहाँ होना चाहिए ?

पश्चिम मुखी मकान में शौचालय घर की दक्षिण पश्चिम दिशा में होना चाहिए .

Q पूर्वाभिमुख भवन में शौचालय कहां होना चाहिए ?

पूर्व मुखी घर में शौचालय आपका दक्षिण पश्चिम दिशा में होना चाहिए ।

Q Ghar mein shauchalay kahan Hona chahie?

घर में शौचालय दक्षिण और पश्चिम दिशा में होना चाहिए ।

Leave a Comment